खुद को स्वस्थ रखने का ज़िन्दगी का यही मकसद होना चाहिए खुलकर हँसो, खुलकर जियो


                       

ज़िन्दगी में तीन चीजें हमारे लिए डॉक्टर का काम  करती हैं खुलकर हंसना, मन की शांति और संतुलित भोजन।  एक प्यारी सी मुस्कुराहट सबका मन मोह लेती है  और अगर खुल कर हंसने की बात हो तो महफिल का रंग कुछ और हो जाता है.  एक शिशु पैदा होने के बाद दिन में कम से कम 200 बार हंसता है जबकि बड़े होने के साथ साथ यह संख्या कम होती जाती है.  विज्ञान के अनुसार खुलकर हंसने से हमारे शरीर में इंडोर्फिन  नामक हार्मोन का स्राव होता है जो की  हमारे शरीर के लिए एक अच्छी बात है.  इससे हममें खुशी और नई ऊर्जा का संचार होता है.  हंसने से हमारे मूड में तेजी से बदलाव आता है.  हंसने से न केवल हम ही खुश होते हैं बल्कि अपने आसपास के वातावरण को भी हम खुशनुमा बना देते हैं.  इसलिए हमें खुलकर हंसना चाहिए और मस्त रहना चाहिए.

अब हम बात करते हैं  खुलकर हंसने के क्या फायदे हैं

अब पाएं खिली-खिली त्वचा

कई रोगों से बचाव

हंसने से हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है जिससे हम कम बीमार पड़ते हैं.  हंसने से हमारा रक्तचाप सामान्य हो जाता है और फेफडें भी मजबूत होते हैं तथा उनकी क्षमता में भी वृद्धि होती है.  थोड़ी देर हसना हमारे हृदय की क्षमता को भी बढ़ाता है और  रक्त प्रवाह भी संतुलित हो जाता है. हमारे शरीर के लिए हंसी फायदे की डोज है.  हंसने से डायबिटीज भी कंट्रोल में रहती है.

laughter-2

दर्द को भुलाएँ हंसी

हंसी  से हम शरीर के किसी भी दर्द को भूल जाते हैं क्योंकि हंसने से stress हार्मोन कम हो जाते हैं या एकदम न्यून हो जाते हैं. हंसते समय हमारी रक्त वाहिकाओं में खून का प्रवाह पड़ता है और हम तेजी से सांस लेने लगते हैं.  इस प्रक्रिया से हमारे ऊतकों को अधिक ऑक्सीजन मिलती है.

सकारात्मक नजरिया लाएं

हंसने वाले लोग किसी भी समस्या को बाकी लोगों की तुलना में बड़ी जल्दी सुलझा लेते हैं क्योंकि हंसने से जिंदगी के प्रति सकारात्मक नजरिया कई समस्याओं को दूर करने में बहुत मदद करता है.  शोध बताते हैं कि मात्र 10 मिनट हंसने से हमें इतनी ऊर्जा  मिल जाती है जितना सुबह 1 किलोमीटर करने से मिलती है.

laughter-4

कैलोरी बर्न करें

हंसते मुस्कुराते रहने वाला व्यक्ति न केवल सबके आकर्षण का केंद्र होता है अपितु उसका व्यक्तित्व इस आदत से निखर जाता है.  साथ ही रोजाना की हमारी 10-१५ बार की हंसी शरीर से करीब 10-40 कैलोरी तक बर्न कर देती है  क्योंकि जब भी हम हंसते है तो हमारा हार्ट रेट 20% तक बढ़ जाता है.

अहंकार को खत्म करने के लिए  रखें मन पर नियंत्रण

आत्मविश्वास बढ़ाए

प्रकृति से मिले एक अनमोल  उपहार की तरह है.  यह हमारी कई समस्याओं का निराकरण भी करती है.  हंसने वाले लोग बाकी लोगों के मुकाबले सकारात्मक सोच वाले होते हैं.  खुलकर हंसने से आत्मविश्वास तो बढ़ता ही है,  इसके साथ ही तनाव की समस्या भी दूर होती है.

तो अब सोचते क्या है आप भी हंसना और खुलकर  जीना शुरु कर दीजिए जिससे आपको शारीरिक और मानसिक हर प्रकार के कष्टों से मुक्ति मिल सके.

कैसे करें छोटे बेडरूम की सजावट

 

One thought on “खुद को स्वस्थ रखने का ज़िन्दगी का यही मकसद होना चाहिए खुलकर हँसो, खुलकर जियो

  • December 23, 2016 at 4:26 am
    Permalink

    Good to see real expertise on display. Your contbirution is most welcome.

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Subscribe For Latest Updates

Signup for our newsletter and get notified when we publish new articles for free!