सुख शांति छीन लेते हैं भय तथा क्रोध Fear & Anger Have Taken Peace


                       

जब किसी व्यक्ति के मन की बात पूरी नहीं हो पाती, तो उसे क्रोध आना स्वाभाविक है. जो लोग इस क्रोध को संभाल लेते हैं, वे जल्द ही अपने कार्यों में सफलता प्राप्त कर लेते हैं. परंतु जो लोग क्रोध को संभाल नहीं पाते हैं और इसके आवेश में गलत काम कर देते हैं, उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ता है.

रामायण में रावण ने क्रोधित होकर विभीषण को लंका से निकाल दिया था.  इसके बाद विभीषण श्री राम की शरण में चले गए. युद्ध में विभीषण ने ही श्री राम को रावण की मृत्यु का रहस्य बताया था. इसी तरह कंस क्रोधी था और अपने क्रोध के कारण ही उसने कृष्ण के जन्म की संभावना को खत्म करने के लिए देवकी और वासुदेव को कारागार में बंद करवा दिया.  किंतु इसी क्रोध के कारण उसका अंत हुआ और आखिरकार श्रीकृष्ण ने उसके अहंकार का मर्दन किया.

Also Read : – सिर दर्द से बचाव के सरल उपाय Simple Tips To Prevent Headaches

इस सत्य को हमारे पुराणों, वेदों से लेकर अन्य तमाम आदि ग्रंथ होने उद्घाटित किया है कि क्रोध के आवेश में व्यक्ति ठीक से निर्णय नहीं ले पाता है.  अतः मनुष्य को चाहिए कि वह हमेशा अपने क्रोध पर काबू  करना सीखें. हमारे शास्त्र को ध्यान के माध्यम से क्रोध को नियंत्रित कर सकने की पद्धति भी बताते हैं.

Also Read : – मसाज के फायदे Benefits Of Body Massage

इसी तरह जिन लोगों में असुरक्षा की भावना होती है, वह किसी भी काम को पूरी एकाग्रता से नहीं कर पाते हैं . वे पल पल खुद को सुरक्षित करने के लिए सोचते रहते हैं.राजा कंस को जब आकाशवाणी से यह मालूम हुआ कि देवकी की आठवीं संतान को उसका काल बनेगी तो वह डर गया, मृत्यु के भय से असुरक्षित महसूस करने लगा. इस बारे में  उसने  देवकी की संतानों को जन्म होते मार दिया.

Also Read : – जब नौकरी हो नई तो इन बातों का रखें ध्यान Follow These Tips In Your New Office

कई ऐसे काम किए जिससे उसके पापों का घड़ा भर गया. लाख प्रयासों के बाद भी वह श्रीकृष्ण को नहीं मार पाया और उसी का अंत हुआ. अतः हर मनुष्य को बाहरी क्रोध और आंतरिक भय के भाव से हमेशा बच कर रहना चाहिए. तभी जीवन शांति में होगा .

Also Read : – अहंकार को खत्म करने के लिए रखें मन पर नियंत्रण

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Subscribe For Latest Updates

Signup for our newsletter and get notified when we publish new articles for free!