कुछ बुरी आदतें जिनसे अपने कार्यस्थल पर बचना चाहिए Bad Habits To Beware On Workplace

दफ्तर में कभी-कभार थकान होने में कोई बुराई नहीं है, परंतु यदि ऐसा अवसर होता है तो इसका अर्थ है कि इसमें एक गहरी समस्या है. इसकी कई वजहें हो सकती हैं और वक्त मिलते ही डॉक्टर की सलाह लेना उचित है.  कई मामलों में इसकी वजह आपकी कुछ बुरी आदतें भी हो सकती है.  ऐसी आदतों को बदलकर आप समस्या से हमेशा के लिए निजात पा सकते हैं.

अस्तव्यस्त डेस्क

यदि आप साल में एक ही बार अपने डेस्क को साफ करने में  यकीन रखने वालों में से एक हैं तो बेहतर होगा कि आप नियमित रूप से डेस्क  साफ करने की आदत डालें.  डेस्क पर बेकार चीजों के रहने से दिमाग पर काम की अधिकता के आभास का बोझ पढ़ता रहता है.

 देर रात तक काम करना

रात को देर तक काम करने से दिन में आपकी क्षमता पर असर होता है.  डिजिटल स्क्रींस की रोशनी व्यक्ति निद्रा की गुणवत्ता को भी प्रभावित करती है.  यदि आप रात को पूरी नींद लेते हैं फिर भी इसकी गुणवत्ता के उपयुक्त होने से ही आप खुद को चुस्त महसूस कर सकेंगे.  इसीलिए रात को सोने से पहले ईमेल चेक करने की आदत भी छोड़ दे,  और देर तक टी. वी. देखना भी बंद करें.

 उपयुक्त रोशनी की अनदेखी

इनदिनों दफ्तरों में आंखों की थकान बड़ी समस्या है.  इसका असर पूरे शरीर पर होता है.  ध्यान रखने की बात है कि कंप्यूटर स्क्रीन की ब्राइटनेस आपके आस-पास की रोशनी के अनुरुप होनी चाहिए.  बहुत ज्यादा या ज्यादा रोशनी वाले कमरों में ही काम  करें.

 खड़े होने के स्थान पर बैठे रहना

लंबे समय तक बैठने से शरीर को नुकसान तो होता ही है,  यह उर्जा भी खत्म करती है.  जितनी देर हो सके, आप खड़े रहकर काम करने का प्रयास करें.

 मोनिटर की पोजीशन को नजरअंदाज करना

कंप्यूटर स्क्रीन को कितनी दूरी पर रखना चाहिए इसका कोई एकमत जवाब नहीं है.  आपके लिए बेहतर यही होगा कि यह  इतनी दूरी पर हो जहां आपको देखने में सरलता हो. इसके लिए बाजू की दूरी तक स्क्रीन रखें और अपनी सुविधा के अनुरूप एडजस्ट करें.

कैसे बचें इन आदतों से

यदि आपको भी यह बुरी आदतें हैं तो भी डरने की जरूरत नहीं है.  गहरी सांस लें,  रिलेक्स हो जाए तथा यह बात समझ लें कि आप इन आदतों को रातोरात नहीं बदल सकते.  इनमे से कुछ को मिनटों में बदला जा सकता है तो कुछ को सुधारने में हफ्ते या महीने भी लग सकते हैं.  कुछ भी करके एक बार में एक आदत को बदलने पर जोर दे.  इस मामले में जल्दबाजी न करें.

हम आशा करते हैं कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपके लिए महत्वपूर्ण एवं सहायक साबित होगी.

 



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Subscribe For Latest Updates

Signup for our newsletter and get notified when we publish new articles for free!